Representations of cryptocurrency Bitcoin are seen in this picture illustration taken June 7, 2021. REUTERS/Edgar Su/Illustration

बिटकॉइन और दूसरी क्रिप्टोकरेंसी की कीमतों में आ सकती है 20% की गिरावट, क्या है वजह?

बिटकॉइन और दूसरी क्रिप्टोकरेंसी की कीमतों में आ सकती है 20% की गिरावट, क्या है वजह?

क्रिप्टो मार्केट कैपिटलाइजेशन में जल्द ही बड़ी गिरावट देखने को मिल सकती है. यह 1 ट्रिलियन डॉलर से नीचे गिर सकता है. हालांकि इंवेस्टर्स को 1.2 ट्रिलियन डॉलर से ऊपर जाते हुए इसकी रिकवरी की उम्मीद थी, जो आखिरी बार 10 जून को देखी गयी थी. Cointelegraph की एक रिपोर्ट में गिरावट की आशंका जताई जा रही है.

इतना ही नहीं क्रिप्टोकरेंसी मार्केट की भी हालत नाजुक है. 22 अगस्त को, WTI oil की वैल्यू में 3.6% की गिरावट आई. यह 8 जून को अपने $ 122 के शीर्ष से 28% नीचे गिर गया. US Treasuries पर 5 साल की उपज ने अपनी प्रवृत्ति को उलट दिया और वर्तमान में 1 अगस्त के 2.61% से निचले स्तर पर पहुंचने के बाद 3.16% पर कारोबार कर रहा है. इन सभी से संकेत मिलता है कि निवेशकों का केंद्रीय बैंक के इस तरह के ऋण साधनों को रखने के लिए अधिक धन मांगने की प्रथाओं में विश्वास खो रहा है.

गोल्डमैन सैक्स (Goldman Sachs) के मुख्य अमेरिकी इक्विटी रणनीतिकार डेविड कोस्टिन के अनुसार, S&P 500 का जोखिम-इनाम अनुपात वर्तमान में जून के मध्य से 17% की वृद्धि के बाद नीचे की क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? ओर गिरा है. कॉस्टिन ने एक क्लाइंट नोट लिखा है कि अगर मुद्रास्फीति ऊपर की ओर आश्चर्यचकित करती है, तो अमेरिकी फेडरल रिजर्व को अर्थव्यवस्था को और अधिक मजबूती से कसना होगा, जिसका मूल्यों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा.

इस बीच, चीन में COVID-19 के प्रसार को रोकने के लिए कथित तौर पर लंबे समय तक लॉकडाउन और संपत्ति ऋण के मुद्दों ने PBOC को 21 अगस्त को 4.45% से अपनी पांच साल की प्राइम लेंडिंग रेट को 4.30% तक कम करने के लिए प्रेरित किया. चीनी केंद्रीय बैंक द्वारा अप्रत्याशित रूप से ब्याज दरों में कमी करने के एक हफ्ते बाद ये हुआ है.

बढ़ती मुद्रास्फीति के कारण जोखिम-बंद मानसिकता के परिणामस्वरूप निवेशकों को अधिक ब्याज दर बढ़ने की उम्मीद है, जो अंततः क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? विकास शेयरों, वस्तुओं और क्रिप्टोकरेंसी के लिए निवेशकों के उत्साह में गिरावट का कारण बनेगी. Cointelegraph के अनुसार, परिणामस्वरूप, अस्पष्टता के समय में ट्रेडर अमेरिकी डॉलर और मुद्रास्फीति-संरक्षित बॉन्ड में सुरक्षा प्राप्त करने के इच्छुक हैं.

21 अगस्त को, Fear and Greed Index ने 27/100 का आंकड़ा दर्ज किया, जो इस डेटा-संचालित इमोशन मीटर के लिए पिछले 30 दिनों में सबसे कम मूल्य है. इससे पता चलता है कि निवेशकों की राय 16 अगस्त को 44/100 रीडिंग से बदल गई थी और ट्रेडर अब क्रिप्टोकरेंसी बाजार में होने वाली छोटी अवधि की हलचल से अधिक सावधान हैं.

क्रिप्टोकरेंसी का कुल बाजार पूंजीकरण 12.6% गिरकर 1.04 ट्रिलियन डॉलर हो गया है. जबकि बिटकॉइन (BTC) ने 12% की गिरावट देखी, मध्य-पूंजीकरण वाले कुछ ऑल्टकॉइन्स ने 23% या उससे अधिक की गिरावट देखी.

EOS में 34.4% की वृद्धि हुई क्योंकि इसके समुदाय ने सितंबर में आगामी "Mandel" हार्ड फोर्क के बारे में उम्मीद जताई है. अपडेट के परिणामस्वरूप Block.one के साथ संबंध पूरी तरह से समाप्त होने की उम्मीद है. बार्सिलोना फुटबॉल क्लब के नए डिजिटल और मनोरंजन डिविजन में Socios.com ने 25% शेयर के लिए $100 मिलियन की खरीद के बाद, Chiliz (CHZ) में 2.6% की वृद्धि देखी गई.

Cryptocurrency News: बिटकॉइन समेत कई क्रिप्टोकरेंसी में भारी गिरावट, जानें क्या है इसकी वजह

सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन 33,863 डॉलर के स्तर क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? पर कारोबार कर रही है. इसमें पिछले सात दिनों में लगभग 22 प्रतिशत की गिरावट हुई है.

Cryptocurrency News: बिटकॉइन समेत कई क्रिप्टोकरेंसी में भारी गिरावट, जानें क्या है इसकी वजह

सोमवार को बिटकॉइन में बिकवाली रही और यह छह महीने के अपने सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया.

Cryptocurrency News: सोमवार को बिटकॉइन में बिकवाली रही और यह छह महीने के अपने सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया. निवेशक जोखिम भरे दांव से दूर जा रहे हैं जिसकी वजह से क्रिप्टोकरेंसी बाजार में बिकवाली हावी है. सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन, जो 24 जुलाई, 2021 के बाद से 33,863 डॉलर के निचले स्तर पर कारोबार कर रही है, में पिछले सात दिनों में लगभग 22 प्रतिशत की गिरावट हुई है. वहीं, altcoin में भी भारी गिरावट रही. Ethereum में 31 प्रतिशत से ज्यादा और Binance Coin में 28 क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? प्रतिशत की गिरावट रही. CoinMarketCap के अनुसार, रिपोर्ट लिखे जाने तक, Cardano में 35 प्रतिशत, XRP में लगभग 29 प्रतिशत और Solana में सबसे ज्यादा 40 प्रतिशत की गिरावट हुई है.

क्रिप्टो मार्केट में गिरावट की ये है वजह

एक्सपर्ट्स की राय है कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व की हालिया नीतिगत घोषणाओं का दुनिया भर के वित्तीय बाजारों पर प्रभाव पड़ा है और मैक्रो-इकोनॉमिक मंदी के अनुमान के चलते जोखिम वाले एसेट्स बेचे जा रहे हैं. इसके अलावा, रूस और चीन ने भी अपने घरेलू बाजारों में क्रिप्टो पर लगाम लगाने की दिशा में कदम उठाने की घोषणा की है, जिससे एशियाई बाजारों में बड़ी बिकवाली हुई.

Stock Market Live: शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद, सेंसेक्स 248 अंक मजबूत, निफ्टी 18,403 पर, चेक करें आज के टॉप गेनर्स और लूजर्स

Fusion Micro Finance Listing: फ्यूजन माइक्रोफाइनेंस की लिस्टिंग ने निवेशकों को किया निराश, 2.5% डिस्काउंट पर शेयरों की शुरुआत, एक्सपर्ट्स व्यू

Stocks in News: NDTV, L&T Infotech, Mindtree, Zomato समेत इन शेयरों पर रखें नजर, इंट्राडे में करा सकते हैं कमाई

बिटकॉइन का मार्केट कैप भी 64200 करोड़ डॉलर तक गिर गया, जिसकी कुल क्रिप्टो मार्केट कैप 1.5 लाख करोड़ डॉलर में लगभग 40 प्रतिशत हिस्सेदारी थी. बिटकॉइन वर्तमान में 20 जुलाई, 2021 के 29,807 डॉलर के अपने सर्वकालिक निम्न मूल्य की ओर बढ़ रहा है. पिछले साल नवंबर में बिटकॉइन ने लगभग 68,000 डॉलर के अपने उच्च स्तर को हासिल किया था. चीन के प्रतिबंध, बिटकॉइन माइनिंग को लेकर पर्यावरणीय चिंता के बारे में एलन मस्क के ट्वीट, और altcoins एडॉप्शन की वजह से बिटकॉइन में गिरावट देखने को मिल रही है.

(Article: Sandeep Soni)

Get Business News in Hindi, latest India क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

क्रिप्टो करेंसी की कीमतों में गिरावट: खरीदें, बेचें या होल्ड करें?

क्रिप्टो करेंसी की कीमतों में गिरावट: खरीदें, बेचें या होल्ड करें?

कुछ नकारात्मक खबरों से क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? क्रिप्टो बाजार हाल में टूटा है. बिटकॉइन, इथेरियम, डॉजकॉइन समेत सारी डिजिटल करेंसी अपने शिखर स्तरों से बड़ी छूट के साथ बिक्री के लिए उपलब्ध हैं. फिर भी आशंकाओं के कारण निवेशक क्रिप्टो मार्केट में अपनी रणनीति को लेकर संशय में हैं. आइए देखते हैं क्रिप्टो बाजार में स्ट्रेटेजी को लेकर एक्सपर्ट्स की क्या है सलाह-

क्रिप्टो कीमतों में आई है भारी गिरावट:

पूरे क्रिप्टोकरेंसी मार्केट का वैल्यूएशन बीते कुछ दिनों में काफी नीचे आया है. बिटकॉइन ने 14 अप्रैल को अपना 64,850 डॉलर का उच्चतम स्तर हासिल किया था. कॉइनमार्केटकैप वेबसाइट के अनुसार रविवार सुबह बिटकॉइन इस स्तर से करीब 42% नीचे रहकर 37,500 डॉलर के करीब व्यापार कर रहा है. बीते एक हफ्ते में ही इस क्रिप्टोकरेंसी के भाव में करीब 22% की बड़ी कमी आई है.

इथेरियम केवल आखिरी 7 दिनों में लगभग 40% टूटकर 2300 डॉलर के करीब ट्रेड कर रहा है. 12 मई को इथेरियम ने अपना 4,362 का शिखर स्तर बनाया था.

बाइनेंस कॉइन अब क्रिप्टो बाजार में मार्केट कैप के अनुसार तीसरे की जगह पांचवें स्थान क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? पर आ गया है. 10 मई को 690 डॉलर का रिकॉर्ड स्तर छूने के बाद इस क्रिप्टोकरेंसी का भाव अब 57% नीचे रहकर 300 डॉलर के करीब है. एक हफ्ते में बाइनेंस कॉइन 48% कमजोर हुआ है.

Dogecoin भी अन्य क्रिप्टोकरेंसी की तरह ही हफ्ते भर में काफी गिरकर 35% नीचे आ गया है. अभी 0.34 डॉलर के करीब व्यापार कर रहा Dogecoin अपने 8 मई के शिखर स्तर से 53% नीचे है. अन्य क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? क्रिप्टोकरेंसी भी इसी तरह बड़े करेक्शन के साथ ट्रेड कर रहे हैं.

Cryptocurrency: आज क्रिप्टो मार्केट में आई तेजी, जानिए लेटेस्ट रेट

क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में कुछ करेंसीज की कीमतों में तेजी आई है. आइए जानते हैं आज के लेटेस्ट रेट.

क्रिप्टोकरेंसी बहुत ही कम समय में निवेशकों का लोकप्रिय बन गया है. आज ज्यादातर लोग जल्दी अमीर बनने के लिए इसमें निवेश कर रहे हैं. हालांकि क्रिप्टो में जितना जोखिम है उतना ही इसमें फायदा भी है. बहुत ही कम समय में इसने अपने निवेशकों को अच्छा रिटर्न दिया है. आइये जानते हैं कि इस वक्त बिटक्वाइन (Bitcoin), डॉगकॉइन (Dogecoin), एक्सआरपी (क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? XRP) और एथेरियम (Ethereum) के अलावा कार्डानो (Cardano) का लेटेस्ट रेट क्या है.

1. बिटक्वाइन (Bitcoin)

बिटक्वाइन (Bitcoin)

बिटक्वाइन (Bitcoin) क्रिप्टोकरेंसी इस वक्त 19,295.74 डॉलर पर ट्रेड कर रहा है. इसमें इस वक्त 2.67 प्रतिशत की तेजी देखी जा रही है. इस रेट पर बिटक्वाइन क्रिप्टोकरेंसी की मार्केट कैप 369.68 बिलियन डॉलर है. बीते चौबीस घंटे के दौरान बिटक्वाइन क्रिप्टोकरेंसी की हाईएस्ट कीमत 19,674 डॉलर और न्यूनतम कीमत 18,277.52 डॉलर रही है. अगर 1 जनवरी से लेकर अब तक के इसके रिटर्न की बात करें तो इसने अपने निवेशकों को एक साल में 58.08 क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? प्रतिशत का नेगेटिव रिटर्न दिया है. बिटक्वाइन क्रिप्टो करेंसी की ऑलटाइम हाई कीमत 68,990.90 डॉलर रही है.

2. एथेरियम (Ethereum)

एथेरियम (Ethereum)

एथेरियम (Ethereum) बिटकॉइन के बाद दूसरा सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी है. इस वक्त यह 1,353.47 डॉलर पर चल रहा है. इसमें इस वक्त 3.84 प्रतिशत की तेजी दर्ज की जा रही है. इस रेट पर एथेरियम की मार्केट कैप 162.07 बिलियन डॉलर है. बीते चौबीस घंटे के दौरान एथेरियम की अधिकतम कीमत 1,391.66 डॉलर और न्यूनतम कीमत 1,282.05 डॉलर रही है. अगर 1 जनवरी से लेकर अब तक के इसके रिटर्न की बात करें तो इसने अपने निवेशकों को एक साल में 63.14 प्रतिशत का नेगेटिव रिटर्न दिया है. एथेरियम (Ethereum) की ऑलटाइम हाई कीमत 4,865.57 डॉलर रही है.

एक्सआरपी (XRP)

एक्सआरपी (XRP) इस वक्त 0.377570 डॉलर पर ट्रेंड कर रहा है. इसमें इस वक्त 9.65 प्रतिशत की तेजी देखी जा रही है. इस रेट पर एक्सआरपी क्रिप्टोकरेंसी की मार्केट कैप 37.80 बिलियन डॉलर हो गई है. बीते चौबीस घंटे के दौरान एक्सआरपी क्रिप्टोकरेंसी की अधिकतम कीमत 0.39 डॉलर और न्यूनतम कीमत 0.34 डॉलर दर्ज की गई है. अगर 1 जनवरी से लेकर अब तक के इसके रिटर्न की बात करें तो इसने अपने निवेशकों को एक साल में 54.86 प्रतिशत का नेगेटिव रिटर्न दिया है.एक्सआरपी (XRP) क्रिप्टो करेंसी की ऑलटाइम हाई कीमत 3.40 डॉलर रही है.

4. कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी (Cardano)

कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी (Cardano)

कार्डानो (Cardano) इस वक्त 0.447288 डॉलर पर ट्रेंड कर रहा है. इसमें इस वक्त 1.56 प्रतिशत की तेजी देखी जा रही है. इस रेट पर कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी की मार्केट कैप 15.03 बिलियन डॉलर हो गई है. बीते चौबीस घंटे के दौरान कार्डानो क्रिप्टोकरेंसी की अधिकतम कीमत 0.46 डॉलर और न्यूनतम कीमत 0.43 डॉलर दर्ज की गई है. अगर 1 जनवरी से लेकर अब तक के इसके रिटर्न की बात करें तो इसने अपने निवेशकों को एक साल में 65.78 प्रतिशत का नेगेटिव रिटर्न दिया है. कार्डानो (Cardano) क्रिप्टो करेंसी की ऑलटाइम हाई कीमत 3.10 डॉलर रही है.

5. डॉगकॉइन क्रिप्टोकरेंसी (Dogecoin)

डॉगकॉइन क्रिप्टोकरेंसी (Dogecoin)

डॉगकॉइन (Dogecoin) इस वक्त 0.058399 डॉलर पर ट्रेंड कर रहा है. इसमें इस वक्त 2.13 प्रतिशत की तेजी देखी जा रही है. इस रेट पर डॉगकॉइन क्रिप्टोकरेंसी की मार्केट कैप 7.95 बिलियन डॉलर हो गई है. बीते चौबीस घंटे के दौरान डॉगकॉइन क्रिप्टोकरेंसी की अधिकतम कीमत 0.06 डॉलर और न्यूनतम कीमत 0.06 डॉलर दर्ज की गई है. अगर 1 जनवरी से लेकर अब तक के इसके रिटर्न की बात करें तो इसने अपने निवेशकों को एक साल में 65.60 प्रतिशत का नेगेटिव रिटर्न दिया है. डॉगकॉइन (Dogecoin) क्रिप्टो करेंसी की ऑलटाइम हाई कीमत 0.740796 डॉलर रही है.

भारत से ज्‍यादा पाकिस्‍तान में बढ़ा क्रिप्‍टोकरेंसी मा‍र्केट, जानिए रिपोर्ट में किस तरह के आंकड़े आए सामने

रिपोर्ट के अनुसार डिसेंट्रलाइज्ड फाइनेंस प्लेटफॉर्म पर होने वाली गतिविधियों में भारत की हिस्सेदारी 59 फीसदी देखने को मिली है। जबकि पाकिस्‍तान की हिस्‍सेदारी 33 फीसदी है। रिपोर्ट की मानें तो साउथ और सेंट्रल एश‍िया में क्रिप्टोकरेंसी से संबंधित इंटरप्रेन्‍योरश‍िप और वेंचर कैपिटल इंवेस्‍टमेंट भी इजाफा देखने को मिला है।

भारत से ज्‍यादा पाकिस्‍तान में बढ़ा क्रिप्‍टोकरेंसी मा‍र्केट, जानिए रिपोर्ट में किस तरह के आंकड़े आए सामने

Representations of cryptocurrency Bitcoin are seen in this picture illustration taken June 7, 2021. REUTERS/Edgar Su/Illustration

सेंट्रल और साउथ एशि‍याई देशों में क्रिप्‍टोकरेंसी मार्केट का ग्रोथ जबरदस्‍त देखने को मिला है। खासकर भारत, पाकिस्‍तान और वियतनाम में बीते एक साल में अच्‍छी तेजी देखने को मिली है। चेनालिसिस की रिपोर्ट के अनुसार पिछले एक साल में भारत का क्रिप्‍टोकरेंसी मार्केट बाजार 64 फीसदी बढ़ा है। खास बात तो ये है कि भारत के मुकाबले में पाकिस्‍तान में ज्‍यादा तेजी देखने को मिली है। आंकड़ों के अनुसार पाकिस्‍तान का क्रिप्‍टोकरेंसी मार्केट 711 फीसदी तेज हुआ है।

इस तरह के आंकड़े आए सामने
रिपोर्ट के अनुसार डिसेंट्रलाइज्ड फाइनेंस प्लेटफॉर्म पर होने वाली गतिविधियों में भारत की हिस्सेदारी 59 फीसदी देखने को मिली है। जबकि पाकिस्‍तान की हिस्‍सेदारी 33 फीसदी है। रिपोर्ट की मानें तो साउथ और सेंट्रल एश‍िया में क्रिप्टोकरेंसी से संबंधित इंटरप्रेन्‍योरश‍िप और वेंचर कैपिटल इंवेस्‍टमेंट भी इजाफा देखने को मिला है। वहीं दूसरी ओर ट्रांजेक्‍शन की बात करें तो भारत इस मामले में पाकिस्‍तान और वियतनाम से आगे दिखाई दे रहा है। रिपोटर्ब्‍ के अनुसार 10 मिलि‍यन डॉलर से ज्‍यादा के इंस्‍टीट्यूशनल ट्रांजेक्‍शंस में से 42 फीसदी ट्रांजेक्‍शन भारत में देखने को मिले हैं। जबकि पाकिस्‍तान में यह आंकड़ा 28 फीसदी और वियतनाम में 26 फीसदी तक ही हिस्‍सेदारी है।

भारत में लग सकता है क्रिप्‍टो टैक्‍स
बीते एक साल में भारत के क्रिप्‍टो मार्केट में कई तरह के उतार-चढ़ाव देखने को मिले हैं। यह उतार चढ़ाव भारत में रेगुलेटरी से संबंध‍ित है। इस बात की भी चर्चा जोरों पर चल रही है आने वाले दिनों में भारत में क्रिप्‍टोकरेंसी से संबंध‍ित टैक्‍स भी लगाया जा सकता है। जानकारी के अनसार सरकार क्रिप्‍टोकरेंसी से संबंधि‍त कम से कम चार अलग-अलग टैक्‍स लगा सकती है। जानकारी के अनुसार यह टैक्‍स इंवेस्‍टमेंट, एक्‍सपेंडिचर, माइनिंग, और ट्रेडिंग से जुड़े हुए हो सकते हैं।

2023 में धन के दाता शुक्र देव करेंगे अपनी उच्च राशि मीन में प्रवेश, इन 3 राशियों को करियर और व्यापार में मिल सकती है सफलता

Chief Ministers Property: अरविंद केजरीवाल, योगी आदित्यनाथ और भगवंत मान सब करोड़पति, जानिए सबसे कम संपत्ति वाले 9 मुख्यमंत्रियों के नाम

Gadkari At Chinese Restaurant: चाइनीज रेस्टोरेंट में खाने गए थे नितिन गडकरी, शेफ की सैलरी सुन रह गए थे दंग

क्रिप्‍टोकरेंसी मार्केट में तेजी
अगर बात आज की करें तो क्रिप्‍टोकरेंसी मार्केट में तेजी देखने को मिल रही है। बिटकॉइन, इथेरियम, डॉगेकॉइन एक्‍सआरपी और बाकी ऑल्‍ट‍कॉइंस में क्रिप्टोकरेंसी बाजार क्या हैं? तेजी का माहौल बना हुआ है। अगर बात बिटकॉइन की बात करें तो करीब 3.50 फीसदी की तेजी देखने को मिल रही है और दाम 49515 डॉलर हो गए हैं। बीते एक हफ्ते में बिटकॉइन की कीमत में 18 फीसदी से ज्‍यादा की तेजी देखने को मिल चुकी है। जबकि इथेरियम की कीमत एक फीसदी की उछाल है और करीब 3400 डॉलर पर कारोबार कर रहा है। इस करेंसी में बीते एक सप्‍ताह में करीब 18 फीसदी का उछाल आ चुका है। वहीं दुनिया की सबसे सस्‍ती क्रिप्‍टोकरेंसी में से एक डॉगेकॉइन में आज 10 फीसदी का उछाल आया है। जिसकी वजह से दाम 0.237615 डॉलर पर आ गए हैं। बीते एक सप्‍ताह में 22 फीसदी से ज्‍यादा की तेजी देखने को मिली है।

रेटिंग: 4.62
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 530